व्यापार चिह्न - परिचय

व्यापार चिह्न - परिचय

भारत में व्यापारचिह्न रजिस्ट्री की स्थापना 1940 में हुई और वर्तमान में यह व्यापारचिह्न अधिनियम, 1999 और उसके अंतर्गत बने नियमों का प्रशासन करता है। यह एक संसाधन और सूचना केंद्र के रूप में कार्य करता है और व्यापारचिह्न संबंधी मसलों पर देश का समन्वयक भी है।

व्यापारचिह्न अधिनियम, 1999 का उद्देश्य देश में आवेदित व्यापारचिह्न को रजिस्टर करना एवं वस्तुओं और सेवाओं के लिए बेहतर संरक्षा उपलब्ध कराने के साथ-साथ चिह्न के छलपूर्ण प्रयोग को रोकना भी है। रजिस्ट्री का मुख्य काम उस व्यापारचिह्न को रजिस्टर करना है जो व्यापारचिह्न अधिनियम और नियम के प्रावधानों के अनुसार रजिस्ट्रीकरण-योग्य होता है। रजिस्ट्री का काम व्यापारचिह्न के रजिस्टर का अनुरक्षण करना भी है।

मेड्रिड प्रोटोकॉल, व्यापारचिह्न के अंतरराष्ट्रीय रजिस्ट्रीकरण के लिए मेड्रिड प्रणाली के तहत एक समझौता, स्वीकारने के बाद व्यापारचिह्न रजिस्ट्री भारतीय उद्यमियों द्वारा उनके व्यापारचिह्न के अंतरराष्ट्रीय रजिस्ट्रीकरण के लिए किए आवेदनों के संदर्भ में उद्गम कार्यालय के रूप में और उन अंतरराष्ट्रीय रजिस्ट्रीकरण के संदर्भ में, जहां भारत को सम्बद्ध व्यापारचिह्न की संरक्षा हेतु नामित किया गया हो, नामित संधि पक्ष के कार्यालय के रूप में भी कार्य करता है।

व्यापारचिह्न रजिस्ट्री का प्रधान कार्यालय मुंबई में स्थित है और इसके शाखा कार्यालय अहमदाबाद, चेन्नई, दिल्ली और कोलकाता में स्थित हैं। मेड्रिड प्रोटोकॉल के तहत अंतरराष्ट्रीय आवेदनों के रजिस्ट्रीकरण संबंधी गतिविधियों के संचालन के लिए व्यापारचिह्न रजिस्ट्री, मुंबई स्थित प्रधान कार्यालय में अंतरराष्ट्रीय रजिस्ट्रीकरण स्कन्ध की स्थापना की गई है।

उपर्युक्त गतिविधियों के साथ-साथ, रजिस्ट्री विभिन्न अन्य कार्य भी निष्पादित करता है जैसे रजिस्टर होने की योग्यता संबंधी प्राथमिक सुझाव देना; प्रतिलिप्याधिकर अधिनियम, 1957 की धारा 45 (1) के तहत प्रमाणपत्र जारी करने के लिए यह खोज करना कि प्रतिलिप्याधिकर के रूप में रजिस्टर होने के लिए आवेदित किसी कलात्मक कार्य के समरूप या भ्रामक रूप से समान कोई व्यापारचिह्न रजिस्टर ना किया गया हो; इस विषय पर जनता को आम सूचना और दिशानिर्देश उपलब्ध कराना; पुलिस, केन्द्रीय उत्पाद सहित विभिन्न सरकारी एजेंसियों को सूचना उपलब्ध कराना, लोक शिकायत निवारण, शीर्ष प्रकार के आई पी पुस्तकालय का संचालन करना, वार्षिक सांख्यिकीय रिपोर्ट तैयार करना, शासकीय व्यापारचिह्न जर्नल इलेक्ट्रोनिक रूप में तैयार करना और वार्षिक रिपोर्ट संसद में प्रस्तुत करना।

व्यापारचिह्न रजिस्ट्री कार्यालय का प्रधान महानियंत्रक, एकस्व, अभिकल्प और व्यापारचिह्न होता है जो व्यापारचिह्न के रजिस्ट्रार के रूप में कार्य करता है। वह, समय समय पर केन्द्रीय सरकार द्वारा नियुक्त अन्य अधिकारियों को रजिस्ट्रार का दायित्व निरूपित करता है और वे अधिकारी भी उन्हें निरूपित मामलों के संदर्भ में रजिस्ट्रार के रूप में कार्य करते हैं।

वर्तमान में व्यापारचिह्न रजिस्ट्री का सभी कार्य एक स्वचालित व्यापारचिह्न प्रणाली द्वारा निष्पादित होता है। टीएमआर का केन्द्रीय सर्वर आईपीओ भवन दिल्ली में है और आपदा पुनः प्राप्ति सर्वर आईपीओ मुंबई में है। व्यापारचिह्न रजिस्ट्री की सभी शाखाएँ दिल्ली स्थित सर्वर से वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (वीपीएन) द्वारा जुड़ी हैं। कार्यालय अधिकारियों द्वारा टीएमएस के माध्यम से किए गए सभी कार्य वास्तविक समय आधार पर केन्द्रीय सर्वर में रिकॉर्ड होते हैं।

व्यापार चिह्न


Go to Navigation